बिना संघर्ष किए कभी भी विजय नहीं मिलती, अतः अपनी शक्तियों को पहचानों एवं संगठित होकर इन आसुरी शक्तियों को परास्त कर दो।