सम्पूर्ण आजादी के मूल में तीन प्रकार की आजादी ही प्रमुख हैं | राजनैतिक, आर्थिक व शैक्षणिक आजादी| यदि ये तीन प्रकार की हमें स्वाधीनता मिल जाए, तो हम अन्य स्वाधीनताए तो स्वयं प्राप्त कर सकते है |