सबसे बड़ा कार्य है एक पूर्ण जागृत इंसान का निर्माण| एक जागृत मानव पूरे विश्व को प्रकाशित करने का सामर्थ्य रखता है| महर्षि दयानन्द, स्वामी विवेकानन्द, श्री अरविन्द, आचार्य चाणक्य, भगवान् श्रीराम, योगश्वर श्रीकृष्ण, भगवान् शिव व महायोगी हनुमान ये सब जागृत आत्माएं थी|