बुढ़ापा आयु नहीं, विचारों का परिणाम है। यदि विचारों में जोश, शक्ति, शौर्य, साहस व स्वाभिमान है तो व्यक्ति आयु ढ़लने पर भी जवान होता है।