सकारात्मक सोचो, सकारात्मक सुनो, सकारात्मक देखो, सकारात्मक बात करो, सकारात्मक रहें, ये सब बहुत जरुरी है लेकिन हम छोटी-छोटी बातों में नकारात्मक सोचते है | मन में अच्छा विचार रखिये विचारों, भावना और कार्य ये जीवन चक्र है | इसलिए हमेशा सकारात्मक विचार, भावना और कार्य करने चाहिये |