प्राण रोग, विकार एवं चित्त के अंध्कार को दूर करने वाला अग्नि, अश्विनी, कुमार एवं हरि है।