नवीनतम प्रविष्टियां | पृष्ठ 4

Archive

समय ही सम्पत्ति

समय ही सम्पत्ति है जो समय का सम्मान नहीं करता तथा समय के साथ नहीं चलता उसको समय कभी मापफ नहीं करता।

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider

शाकाहारी बनें

जब बिना निर्दोष प्राणियों की हत्या किए शाकाहार से तुम जीवन जी सकते हो तो क्यों प्राणियों का कत्ल कर रहे हो?

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider

मौन तोड़ो

देश की हानि दुष्टों की दुष्टता से कम तथा सज्जन व्यक्तियों की उदासीनता से अधिक होती है। अतः अब मौन तोड़ो! स्वयं जागो! और देश को जगाओ!! और देश से आसुरी शक्तियों को परास्त करने के लिए आगे आओ!

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider

प्रत्येक प्रभात

जीवन की प्रत्येक प्रभात मेरा एक नया जन्म है और मेरा एक दिन मेरे लिए एक जीवन के बराबर है। मैं आज ही वह सब कुछ करूँगा जिसके लिए मेरे परमात्मा ने इस धरती पर मुझे जन्म दिया है।

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider

जीवन के आदर्श

बच्चों जैसी निर्मलता व निर्भयता, जवानों जैसा जोश, प्रौढ़ जैसा होश व संन्यासी जैसा समर्पण-ये मेरे जीवन के आदर्श हैं।

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider

अमीर व महान्

विचारवान् व संस्कारवान् ही अमीर व महान् है तथा विचारहीन व संस्कारहीन ही कंगाल, दरिद्र व बदनाम है।

० टिप्पणी
आगे पढ़ें
divider
पिछला पृष्ठ | अगला पृष्ठ